Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Monday, August 10, 2015

KEPLER 452 B: एक कदम दूसरी पृथ्वी की ओर !

SHARE
Introduction to Kepler 452 B

"अंतरिक्ष के क्षेत्र में काम कर रहे नामी संस्थान नासा ने यूं तो अब तक काफी नए  ग्रहो का पता लगाया है। जिनमे से 12  ग्रहो को नासा ने जीवन के अनुकूल बताया है।  धरती के अतिरिक्त अन्य किसी ग्रह  पर जीवन ढूंढने के इसी क्रम  में आगे बढ़ते हुए , हाल ही में नासा ने एक बड़ी सफलता उस समय हासिल की ,जब नासा के वैज्ञानिको ने धरती के आकार से बड़े आकार के  एक नए ग्रह  की खोज की। जिसको उन्होने KEPLER 452 B  नाम  दिया  हैं  और  कुछ तथ्यों के आधार पर  इन वैज्ञानिको ने यह बताया की यह ग्रह निवास करने योग्य है। "

What is Kepler 452 B, Spectra of Stars, Different Classes of Stars in hindi,Detail of Planet Like earth,Introduction of Kepler 452 B, Features of Kepler 452 B in Hindi, Second Earth, Earth 2.0, Nasa success towards finding Earth 2.0., Kepler Telescope

इस ग्रह  को नासा ने केप्लर दूरबीन की  मदद से खोजा  है। सौर मंडल के बाहर पाया गया यह ग्रह G2 टाइप के एक तारे की परिक्रमा करता है।धरती के जैसा पाया गया यह नया ग्रह इस तारे के चक्कर लगता है यही  इसका सूरज है। 




यहाँ आपको बता दे कि  सभी तारो को उनके स्पेक्ट्रम के आधार  पर 7  श्रेणियों में बाटा  गया है।  जो  क्रमश O, B, A, F, G, K और  M. हैं। O और  B  श्रेणी के तारो पर पर हाइड्रोजन की मात्रा बहुत अधिक है।   जबकि अन्य पर हाइड्रोजन की मात्रा  कम है और G एवं K  श्रेणी के तारो पर   मैग्नीशियम और कैल्शियम अधिक मात्रा  में हैं।  इन श्रेणियों को तापमान के आधार पर भी देखा गया है। जैसे O श्रेणी  के  अधिक गर्म है।  जबकि M  श्रेणी के ठंडे  हैं। प्रत्येक  श्रेणी  को  फिर से 0 से 9  श्रंखलाओ में बाटा गया  है। जैसे सूर्य  G 2  श्रेणी से है। 

नासा के वैज्ञानिको का अनुमान  है कि  अगर इस नये ग्रह  पर पेड़ पौधों को भेजा  जाये तो ये पेड़ पौधे  वहा जीवित रह सकते हैं। नासा की इस सफलता के अवसर पर नासा के साइंस मिशन के डाइरेक्ट्रेट के सहायक अधिकारी जॉन ग्रस्फेल्ड ने खुशी जाहिर करते हुए कहा की इस नए ग्रह की  खोज ने हमें दूसरी धरती की खोज के बहुत करीब पंहुचा दिया है। उन्होने कहा कि  जिस  क्षेत्र में यह ग्रह  पाया गया है उसको गोल्डीलॉक्स कहते  हैं, जो की निवास करने योग्य , जीवन के अनुकूल वातावरण वाला क्षेत्र है। 

उनके अनुसार निवास करने योग्य क्षेत्र में पाये जाना वाला यह ग्रह  आकार में धरती से काफी बड़ा है। यह धरती से लगभग 60 % बड़ा है और जिस तरह धरती के वर्ष की लम्बाई 365  दिन है। उसी तरह इस ग्रह  के वर्ष की लंबाई 385 दिन है, जो की धरती के वर्ष से 5 % अधिक है।  नासा के  वैज्ञानिको के अनुसार इस ग्रह  के पर पानी मौजूद  है। 

दूसरी धरती की खोज में प्रयासरत नासा को आगे कितनी सफलताएं मिलती हैं या तो आने वाला वक़्त ही बताएगा फिलहाल नासा अपनी इस सफलता से काफी उत्सुक है और दूसरी धरती की खोज के लिए सकारात्मक है। 

1 comment:

  1. जानकारीयुक्त बढ़िया आलेख...

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts