Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Saturday, June 27, 2015

अब मस्तिष्क से बदलिये टी. वी. चैनेल / "Mind Control TV" Prototype

SHARE
" मानव मस्तिष्क भी क्या कमाल की चीज़ है। मन ही मन  पलक झपकते ही मानव कुछ से कुछ विचारने लगता है।  रेगिस्तान की सैर से समुन्द्र के  किनारे  पहुंच जाता है , तो कभी बर्फीले पहाड़ो पर , एक पल में भारत के इंडिया गेट पर  तो दुसरे पल पेरिस की आईफ़िल टावर पर। एक पल में ताजमहल पर तो दुसरे पल चाइना की दीवार पर।  पलक झपकते ही मानव मस्तिष्क में चल रहा दृश्य एक दम बदल जाता है ,ठीक उसी तरह जैसे आप अपने हाथ में रिमोट के बटन से टी.वी. का चैनेल बदलते है और टी वी स्क्रीन पर दृश्य बदल जाता है। "


Mind Control TV Detail in hindi, Control TV by Mind in hindi, Mind Control TV by BBC in hindi,Mind Control TV in hindi, Control your TV by you Mind in hindi , Mind Control TV Prototype Developed in UK, Mind Control TV Brainweb Headset, Brainweb Technology in hindi,Mind control headset in hindi
अरे रुको टी. वी , रिमोट और मस्तिष्क से कुछ याद आया मुझे जो  मैं  इस पोस्ट में आपको बताने जा रहा हूँ। बात दरअसल यह है की अब आपको अपने टी.वी . के चैनेल बदलने के लिए रिमोट की  जरूरत नहीं है। अब आप अपने मस्तिष्क से ही टी.वी. चैनेल बदल सकते हो। अब ब्रेन वेब  टेक्नोलॉजी की मदद से यह संभव है।  ब्रैनवेब को पढ़कर टी. वी चैनल बदलने की इस तकनीक को यूनाइटेड किंगडम में विकसित  किया  गया  है।



मीडिया में क्षेत्र  में नामी  कंपनी  "BBC Digital" के बिज़नेस डेवलपमेंट हेड Cyrus Saihan के अनुसार यह तकनीक उन  लोगो के लिए काफी महत्वपूर्ण है जो किसी कारणवश टी.वी. के रिमोट कंट्रोल का प्रयोग नही कर पाते जैसे हाथो से विकलांग व्यक्ति . इस डिवाइस को BBC  ने लन्दन की एक तकनीकी क्षेत्र की  कंपनी के  साथ मिलकर बनाया  है जिसको उन्होने "Mind Control TV " प्रोटोटाइप  नाम दिया है।    इसके लिए आपको ब्रैनवेब को पढ़ने  वाले हेडसेट  की जरूरत पड़ती है।  BBC कंपनी के 10 सदस्यों ने इस प्रयोग  का अनुभव किया और इसको उन्होने  पूरी तरह सफल भी  बताया है। 



ब्रैनवेब (मस्तिष्क तरंग)  को पढ़ने वाले इस हेडसेट  में दो सेंसर लगे  होते  है।  हेडसेट  के जिस हिस्से में पहला  सेंसर लगा होता है उसको  प्रयोगकर्ता के माथे पर लगाया जाता है  और दूसरा सेंसर इस हेडसेट  में लगी क्लिप से जुड़ा होता है  जिसको को प्रयोगकर्ता के कान पर  लगाया  है। यह डिवाइस दो मुख्यता दो फंक्शन       के आधार  पर कार्य करती है।  ये दोनों  फंक्शन  "Concentration" एवं  "Meditation " हैं।  जिनका सम्बन्ध मस्तिष्क की " Concentration " और " Relax " अवस्था से है। इन दोनों अवस्थाओ के लेवल को प्रयोगकर्ता के सर पर लगा यह ब्रैनवेब हेडसेट  मापता है और  उसके आधार  पर ही यह चैनेल सेलेक्ट करता है और आवाज़ भी नियंत्रित करता है।  इस सम्बन्ध में अधिक  तकनीकी जानकारी   के लिए आप रिफरेन्स में दिए गए वेब साइट  एड्रेस पर जा  सकते है।



Reference :http://www.theengineer.co.uk

7 comments:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार (28-06-2015) को "यूं ही चलती रहे कहानी..." (चर्चा अंक-2020) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक

    ReplyDelete
    Replies
    1. इस हेतु आपका बहुत बहुत आभार !

      Delete
  2. Nice post. Please check mine and comment:

    https://www.indiblogger.in/indipost.php?post=486854

    Cheers!!

    UK

    ReplyDelete
  3. आपके ब्लॉग पर आके अच्छा लगा मनोज जी। ढेर सारी पठनीय सामग्री है। आपको बहुत बहुत शुभकामना। बधाई भी।

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts