Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Wednesday, June 1, 2016

Security from Email Virus

SHARE

ईमेल वायरस वर्तमान में प्रयोग किये जाने वाल सबसे अधिक असरदार वायरस है.जिसको कि ईमेल में डॉक्यूमेंट अटेच के रूप में आपको भेजा  जाता है। आपको पता भी नहीं होता कि  जिस डॉक्यूमेंट  या फाइल को अटेच करके आपकी मेल आईडी पर भेजा गया है ,उसमे वायरस हैऔर जैसे ही आप इस डॉक्यूमेंट को ओपन करते हो या डाउनलोड करते हो यह वायरस एक्टिव हो जाता है एवं आप इसके शिकार बन जाते हैं। 


ईमेल वायरस से होने वाली हानियाँ -


Keywords:Introduction of email virus in hindi, effects of email virus in hindi, solution to safe from email virus in hindi,loss due to email virus in hindi,how to keep safe from email virus in hindi, what is email virus in hindi
ईमेल वायरस  एक्टिव होते ही यह कई प्रकार से आपको हानि पहुंचा सकता है।  यह नुक्सान उस वायरस में की गयी   कोडिंग  पर निर्भर करता है कि  इससे किस तरह का नुक्सान होने वाला है। इससे होने वाली हानिया इस प्रकार हैं -

  • जैसे कि जिस भी डिवाइस कंप्यूटर , लैपटॉप ,टेबलेट या मोबाइल जिसमे भी आप यह ईमेल ओपन करते हो उस डिवाइस पर स्टोर आपके डेटा को क्षति पहुंचाता है उसे करप्ट कर सकता है। 
  • जैसे ही  ईमेल वायरस एक्टिव होता  है यह आपके ईमेल अकाउंट से आपकी  कुछ प्राइवेट इनफार्मेशन जैसे एड्रेस या कांटेक्ट नंबर एवं  अन्य जानकारी ऑटोमेटिकली उस व्यक्ति के ईमेल एड्रेस पर भेज देता है जिसने आपको ईमेल वायरस भेजा है।   
  • तीसरा सबसे भयंकर प्रकार की हानि यह है कि जैसे ही यह ईमेल वायरस एक्टिव होता है, यह ऑटोमेटिकली आपके  अकाउंट में कांटेक्ट ऑप्शन में मौजूद आपके सभी मित्रगणों की ईमेल आईडी पर भी आपकी आईडी से भेज दिया जाता है। 




ईमेल वायरस से खुद को कैसे सुरक्षित रखे ?

ईमेल वायरस से खुद को सुरक्षित रखने के लिए इन बाते का ध्यान रखे -

  • यदि आप ईमेल सेन्डर से बिलकुल  अंजान हो तो कभी भी उसके द्वारा  आपकी  ईमेल  पर अटेच के रूप में  मिलने वाले डॉक्यूमेंट या फाइल को  ओपन न करें। 
  • अपने कंप्यूटर , लैपटॉप , मोबाइल या जिस डिवाइस पर आप ईमेल चेक करते हो उस पर अपडेटेड एंटीवायरस, एंटी  स्पायवेयर सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करें ताकि'वह आपको  वाले डॉक्यूमेंट को  सम्बंधित जानकरी के लिए  स्कैन कर सके। यदि के बाद कोई वायरस सम्बंधित मेसेज आपको डिस्प्ले  होता है तो अटैचमेंट को ओपन न करें। 

7 comments:

  1. बहुत ही सुंदर पोस्‍ट। साथ ही बेहद खूबसूरत ब्‍लाग। पर आपके ब्‍लाग पर विजिटर बहुत ही कम मालूम प्रतीत हो रहे हैं। इस दिशा में आपको गंभीर प्रयास करने होंगें। अमेजान के एफिलिएट विज्ञापन काफी मात्रा में हैं। पर क्‍या इससे ब्‍लाग को इनकम हो रही है। ऐडसेंस ट्राई क्‍यों नहीं करते।

    ReplyDelete
    Replies
    1. जमशेद जी आप ब्लॉग पर आये इसके लिए आपका शुक्रिया ये अमेज़ॉन के विज्ञापन न लगाकर मैं ने कोशिश की शयद कुछ इनकम हो लेकिन कोई इनकम नहीं हुयी

      Delete
  2. बहुत अच्छी उपयोगी जानकारी ..

    ReplyDelete
  3. आपकी ब्लॉग पोस्ट को आज की ब्लॉग बुलेटिन प्रस्तुति ब्लॉग बुलेटिन - अलविदा ~ रज्जाक खान में शामिल किया गया है। सादर ... अभिनन्दन।।

    ReplyDelete
  4. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (03-06-2016) को "दो जून की रोटी" (चर्चा अंक-2362) (चर्चा अंक-2356) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  5. Behad upyogi jankarivardhk post. Thanks manoj ji for sharing with us

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts