Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Monday, April 18, 2016

अब आनंद लीजिए पेपरलेस पासपोर्ट का !

SHARE
जहां वर्तमान में   जहां हर काम डिजिटल तकनीक की मदद से हो रहा है ऐसे में भला पासपोर्ट भी डिजिटल होने से कैसे बच सकता था। बहुत जल्द पासपोर्ट भी डिजिटल हो सकता है ? मतलब अब आपको विदेश जाते समय पासपोर्ट को अपने साथ ले जाने की जरूरत नहीं होगी।  सोचो अगर आप  एयरपोर्ट पहुंचने वाले हैं और अपना पासपोर्ट  घर पर ही  भूल गए हैं? तो  अब चिंता करने की जरूरत नहीं, क्योंकि एक कंपनी स्मार्टफोन में ही पासपोर्ट उपलब्ध कराने पर  काम कर रही है।

डेलारू नाम की ब्रिटेन की यह कंपनी  पासपोर्ट की प्रिटिंग करती है। यह पेपरलेस पासपोर्ट तकनीक पर काम कर रही है जिसे स्मार्टफोन में ही स्टोर किया जा सकेगा। अगर ऐसा संभव  तो अब आपको विदेश जाते समय अपने साथ सामान्य  पासपोर्ट  को लेकर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।  




हाल  ही  में ब्रिटेन के एक प्रमुख अखबार, 'द टेलीग्राफ' में यह खबर प्रकाशित हुयी है जिसके अनुसार इस तकनीक की मदद से मुसाफिर बिना बुकलेट वाली पासपोर्ट के सफर कर सकेंगे। यह बिल्कुल मोबाइल बोर्डिंग कार्ड की तरह काम करता है ।

इसके फायदे के साथ  कुछ नुक्सान भी हो सकते हैं , अगर किसी का फोन चोरी हो जाए तो ऐसे में सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा उत्पन्न हो सकता है। सुरक्षा कंपनी प्रुफप्वाइंट के डेविड जेवान्स का कहना है, फोन में डिजिटल पासपोर्ट रखने के लिए नए हार्डवेयर की जरूरत होगी, ताकि इलेक्ट्रॉनिक पासपोर्ट को सुरक्षित ढंग से रखा जा सके ताकि इसे फोन से कॉपी न किया जा सके।

कंपनी के अनुसार पेपरलेस पासपोर्ट को  पासपोर्ट रीडर के साथ वायरलेस तरीके से जुडऩे में सक्षम होना चाहिए। क्योंकि एयरलाइन के तरीके से क्यूआर कोड के माध्यम से इसे रीडर के साथ जोडऩे पर कॉपी करने या धोखाधड़ी का खतरा बना रहेगा। फिलहाल पेपरलेस पार्सपोर्ट का परीक्षण किया जा रहा है।


Keywords:Report on Paperless Passport technology in hindi, passport in smart phone, paperless technology by De La Rue Company, passport embedded in smartphone,digital passport,paperless passport,electronic passport reader,l
Reference - Paperless Passport TechnologyNews

Objective Questions from Non-Conventional Energy Resources

MCQ in Non Conventional Energy Resources


2 comments:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल मंगलवार (19-04-2016) को "दिन गरमी के आ गए" (चर्चा अंक-2317) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  2. बहुत अच्छी जानकारी !
    हिंदीकुंज

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts