Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Wednesday, July 8, 2015

बुरी आदतो को कैसे बदले ? उनसे कैसे निपटे ?

SHARE
             
 "जैसा की हम सब जानते हैं कि अधिकतर व्यक्तियों में दोनों तरह की आदते होती हैं , बुरी आदते  और अच्छी आदते। अच्छी आदते हमको अक्सर सफलता की ओर  लेकर जाती हैं और बुरी आदते  हमको पीछे धकेल देती हैं।  आपको अपनी मंजिल भी पता है और आपको अपना  रास्ता भी।  अगर आपको आपकी आदते मंजिल की  और सही रास्ते से लेकर जा रही हैं तो आपको उनको  बदलने कि जरूरत नही है।  लेकिन अगर आपको आपकी आदते  मंजिल कि ओर नहीं ले जा रही ओर रास्ता भी सही नही है तो आपको अपनी आदते बदलनी होगी। आज आप जो भी हो, जहा भी हो, अपनी आदतो की वजह से हो। "

कुछ आदते ऐसी होती हैं जिनके कारण हमको नुक्सान उठाना पड़ता है तो कुछ आदते ऐसी भी होती जिनके कारण कभी कभी  हमको अक्सर दूसरो के सामने हसी का पात्र बनना पड़ता है।  स्मोकिंग, ड्रिंकिंग ,पढ़ाई न करने की आदत , लड़ाई करने की आदत, गलत संगत  में रहने की आदत ये ऐसी आदते हैं जिनके  कारण हमारा अपना खुद का नुक्सान होता है किसी दुसरे का नही।  इनकी वजह से हमारी खुद की लाइफ ख़राब होती है।  

 वही कुछ आदते ऐसी भी होती हैं जिनके कारण हमारा इतना ज्यादा  तो नही होता पर हाँ दुसरो के सामने हम उनकी वजहसे हसी का पात्र बनना पड़ता है।  जिनमे मख्या रूप से नाख़ून चबाने कि आदत ,  बार बार  थूकने की आदत , दूसरो से बात करते ज्यादा बोलने की आदत , झूठ  बोलकर पलटने की आदत। 

 कभी कभी हम खुद अपनी बुरी आदतो से छुटकारा पाना चाहते हैं, लेकिन सही तरीके को नही अपना पाते ओर जो अपना लेते हैं वो अपनी इन आदतो से छुटकारा पा लेते हैं।  कभी कभी कुछ दुसरे भी हमारी मदद करते हैं जिनकी वजह से हम इन ख़राब आदतो से छुटकारा पा सकते है।  





10 common bad habit , How to Change bad habit in hindi, hoe to break a bad habit? how to stop bad habit? how to get rid of bad habit? tips to remove bad habit? tips to remove nail biting, how to stop nail biting, how to rid of smoking, how to rid of drinking, way to stop smoking, way to stop drinking,way to stop forgetting, ow to take interest in study, tips fpr taking interest in study in hindi, ये आदत है बुरी - आदत ये बदल डालो! ,बुरी आदतो को कैसे बदले ? उनसे कैसे निपटे ?पढ़ाई में मन न लगने की आदत से कैसे निपटे की पढ़ाई में मन लगे ,ड्रग्स और स्मोकिंग की आदत से कैसे छुटकारा पाये ?भूंलने की आदत से कैसे निपटे ?,नाख़ून चबाने से कैसे बचे ?किस ख़राब आदत से कैसे पाये छुटकारा ?
किस ख़राब आदत से  कैसे पाये छुटकारा ?

यहाँ हम आपको कुछ टिप्स बता रहे हैं। जिनको अपनाकर आप ख़राब आदतो से छुटकारा पा सकते हैं ,अगर सच में पाना चाहते हैं तो -

  • अधिकतर एक्सपर्ट मानते हैं कि किसी भी ख़राब आदत से छुटकारा पाने के लिए हमे एक नयी अच्छी आदत डालनी होगी मतलब कि अगर हम अपनी किसी ख़राब आदत से बहुत परेसान हैं ,जो हमको सफल होने से रोक रही है तो हमको उस आदत को कैसे रोकने या उस आदत से होने वाले नुकसानों से ज्यादा ,एक ऐसी नई अच्छी आदत अपनानी होगी एक ऐसी अच्छी नए आदत के फायदों के बारे में सोचना होगी जो हमे सफलता कि ओर ले जा सके। यदि हम ऐसी आदत अपना लेते हैं हैं तो हमारे ये अच्छी आदत उस बुरी आदत से रिप्लेस  हो जाती है उसकी जग ले लेती है। 


  • अगर हम अपनी कई बुरी आदतो से परेसान हैं तो कोशिश करे कि एक समय में एक ही बुरी आदत को ऊपर बताये गए  के तरीके के अनुसार किसी  अच्छी आदत से बदले। 

नाख़ून चबाने  से कैसे बचे ?

अगर आपको नाख़ून चाबाने की आदत  है ,तो यह भी सामजिक रूप से माननीय नही है , हमको दुसरो के सामने हसी का पात्र बनना पड़ता है। ऐसे में  आपको  कुछ ऐसा करना है कि जब भी आप नाख़ून चबाने जाओ आप अपने हाथो को को पॉकेट में रख लो , या हाथ बांधकर खड़े हो जाओ।  कोशिश  करो कि आपके हाथ मूह की तरफ कम  जाए। 

भूंलने की आदत से कैसे निपटे ? 



अगर आपको  लेकर बार बार भूल जाने  की  आदत है तो कुछ उसके  लिए आप मोबाइल में अलार्म के साथ रिमाइंडर लगा सकते हो , या अपनी जेब में रखे रुमाल में गाँठ बाँध सकते हो जैसे ही आप अपना रुमाल अपनी जेब से निकलोगे तो आपको वो काम याद आ जाएगा। 



ड्रग्स और स्मोकिंग की आदत से कैसे छुटकारा पाये ?

अगर आपके अंदर ड्रग्स स्मोकिंग की आदत है तो आपको इस आदत से छुटकारा पाने के लिए थोड़ी मेहनत करनी होगी पर इसे बदलना जरूर क्यों कि अपनी इसी आदत की वजह से आप अपनी फैमिली से बाहर  हो सकते हो, जेल जा सकते हो, शरीर ओर करियर ख़राब कर लेते हो।  इस आदत से परेसान अधिकतर लोग इसे  छोड़ना  चाहते हैं। सबसे पहले आप उन  लोगो को पहचानो जो आपको ड्रिंकिंग स्मोकिंग या ड्रग्स ऑफर  करते हैं मतलब जिनकी कंपनी में आप ये सब करते हो , तो जैसे ही उनका फ़ोन  ड्रिंकिंग  या स्मोकिंग के लिए आये  तो आप उन्हे मना  कर सकते हो भले ही आपको छोटा झूठ  क्यों न बोलना पड़े।  आप उन  रास्तो से न गुजरे जिन पर शराब , बीयर और  स्मोकिंग कि दुकाने जयदा हो। 

 जब भी आपका मन शराब या ड्रग्स लेने का करे उस समय अपने मन में अपने बच्चो की फोटो को देखो। अपनी पत्नी जो आपको खाना बनाकर देती है उसकी फोटो को देखो ,अपने माता पिता जिनका  आप एक मात्र सहारा हो उनको देखो।  इस आदत को बदलने के लिए दिन के जिस समय में ये काम करते हो उस समय कोई नया अच्छा काम भी कर सकते हो जैसे कोई कोई गेम ज्वाइन करना , कोई पसंद का टी वी सीरियल देखना या कुछ और। 

जब भी टी. वी या  रास्ते में लगे किसी होर्डिंग को देखकर आपका मन आपको स्मोकिंग या ड्रिंकिंग के लिए प्रेरित करे ,तो उस समय सोचो कि जो लोग जो फिल्म स्टार जो मॉडल इसका प्रचार करते हैं क्या वो सच में इसी पीते  हैं।  आपको जवाब मिलेगा नहीवो ऐसा बिलकुल नही करते बस वो लक्खो और करोडो कमाने के लिए इसका प्रचार कर रहे हैं। 

अपनी इस आदत को छोड़ने के लिए आप अपने फैमिली डॉक्टर से सुझाव ले।  

पढ़ाई में मन न लगने की आदत से कैसे निपटे की पढ़ाई में मन लगे !


पढ़ाई में मन लगाने के लिए सबसे जरूरी है कि आप जिस कमरे में जिस जगह बैठकर पढ़ाई कर रहे हो उस जगह को साफ़ रखो , पढ़ते  समय मोबाइल स्विच ऑफ या साइलेंट पर रख दो , आप पढ़ते समय अपनी पसंद का पेन , अपनी पसंद का बुक कवर भी इस्तेमाल कर सकते हो। ताकी  आपका मन लगे। जैसे ही आपको थोड़ी बोरियत महसूस हो आप  5  मिनट का रेस्ट ले सकते हैं। पढ़ाई में मन लगाने के लिए जरूरी है कि आप पढ़ाई अपने उस समय में करे जिस समय आप अपने को अधिक रिलैक्स और ऊर्जावान महसूस  करते हों। 


अगर आपके अंदर कोई ऐसी ख़राब आदत है जो आप उस समय जयदा करते हो जबआप घर पर रहते हो तो अपने घर के सदस्यों से कह  दो कि जैसे आप मुझे इस आदत को करते देखो तुरंत मन करो ताकि आपको याद आ जाए कि वो आपको नही करना  है। 

बेन्ज़िलमन फ्रेंकलिन कहते हैं कि जब आप अपने अंदर से बुरी आदतो को निकाल देते हो तो बाकी जो इंसान बचता है वही आपकी ओर से इस दुनिया के लिए  सम्पत्ति होती है।  इसलिए याद रखो कि सफल आपको होना है इसलिए आज से ही अपनी बुरी आदतो को अच्छी आदतो से बदल डालो ,बदल डालो ,बदल डालो। अपने लिए न सही कम  से कम   उसके लिए ही बदल डालो जिसे आप सबसे जयदा प्यार करते हो उसकी ख़ुशी के लिए ही बुरी आदते छोड़ दो कोई तो होगा आपका अपना जिसको दुखी देखकर आपका मन भर आता हो आपकी आँखे नम हो जाती हो तो उसके  लिए ही बदल डालो।  


                                                                                                               -------------  मनोज  कुमार 

5 comments:

  1. बहुत उपयोगी और सार्थक प्रस्तुति...

    ReplyDelete
  2. बेन्ज़िलमन फ्रेंकलिन कहते हैं कि जब आप अपने अंदर से बुरी आदतो को निकाल देते हो तो बाकी जो इंसान बचता है वही आपकी ओर से इस दुनिया के लिए सम्पत्ति होती है-बहुत सटीक कहा है !
    सार्थक चिंतनशील प्रस्तुति।

    ReplyDelete
  3. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा आज बृहस्रपतिवार (09-07-2015) को "माय चॉइस-सखी सी लगने लगी हो.." (चर्चा अंक-2031) (चर्चा अंक- 2031) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक

    ReplyDelete
  4. सभी पाठकगणों का आभार और हार्दिक स्वागत !

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts