Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Tuesday, February 24, 2015

यहाँ भी होता है एक दिमाग !

SHARE

दोस्तों दिमाग शरीर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है।  इसी के बल पर आज दुनिया के ये नज़ारे हैं पर क्या आप जानते हैं की शरीर में प्रमुख  दिमाग के अलावा एक और छोटा दिमाग होता है जो की रीढ़ की  हड्डी में होता है।  अमेरिकी  वैज्ञानिको ने  रीढ़ की हड्डी में एक छोटे मस्तिष्क होने का का पता लगाया है। रीढ़ की हड्डी का अपना विशेष महत्व है जैसे की यह हमे भीड़ के बीच से गुजरते वक्त या सर्दियों में बर्फीली सतह से गुजरते वक्त शारीरिक संतुलन बनाने में मदद करती है और फिसलने या गिरने से बचाती है। 






हमारी रीढ़ की हड्डी में मौजूद कोशिकाएं  सूचनाओं को इकट्ठा कर मांसपेशियों के आवश्यक समायोजन में मदद करते हैं। कैलिफोर्निया के एक  वैज्ञानिक अनुसंधान संस्थान 'साल्क' के जीवविज्ञानी मार्टिन गोल्डिंग के अनुसार  'हमारे खड़े होने या चलने के दौरान पैर के तलवों के संवेदी अंग इस छोटे दिमाग को दबाव और गति से जुड़ी सूचनाएं भेजते हैं। 

उन्होने कहा कि 'इस अध्ययन के जरिए हमें हमारे शरीर में मौजूद 'ब्लैक बॉक्स' के बारे में पता चला। हमें आज तक नहीं पता था कि ये संकेत किस तरह से हमारी रीढ़ की हड्डी में इनकोड और संचालित होते हैं।'  प्रत्येक मिलिसेकंड पर सूचनाओं की विभिन्न धाराएं मस्तिष्क में प्रवाहित होती रहती हैं।   अपने अध्ययन में साल्क वैज्ञानिकों ने इस संवेदी मोटर नियंत्रण प्रणाली के विवरण से पर्दा हटाया है। अत्याधुनिक छवि प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से इन्होंने तंत्रिका फाइबर का पता लगाया है, जो पैर में लग संवेदकों की मदद से रीढ़ की हड्डी तक संकेतों को ले जाते हैं।



इन वैज्ञानिको ने पता लगाया कि  ये संवेदक फाइबर आरओआरआई न्यूरॉन्स नाम के तंत्रिकाओं के अन्य समूहों के साथ रीढ़ की हड्डी में मौजूद होते हैं। इसके बदले आरओआरआई न्यूरॉन मस्तिष्क के मोटर क्षेत्र में मौजूद न्यूरॉन से जुड़े होते हैं, जो मस्तिष्क और पैरों के बीच एक महत्वपूर्ण संबंध हो सकते हैं। इन वैज्ञानिको ने  ये अध्ययन चूहों पर किया और उन्होने पाया कि  जब साल्क में आनुवांशिक रूप से परिवर्धित चूहे की रीढ़ की हड्डी में आरओआरआई न्यूरॉन को निष्क्रिय कर दिया तो इसके बाद चूहे गति के बारे में कम संवेदनशील हो गए। गोल्डिंग की प्रयोगशाला के लिए शोध करने वाले शोधकर्ता स्टीव बॉरेन ने कहा, 'हमें लगता है कि ये न्यूरॉन सभी सूचनाओं को एकत्र कर पैर को चलने के लिए निर्देश देते हैं।'

Keywords: Spinal Cord, Brain , Neurons etc.

नोट : इस ब्लॉग के फेसबुक पेज के लिए ब्लॉग पर ऊपर दाई तरफ दिए गए फेसबुक बटन को लाइक करे। 

7 comments:

  1. सरल भाषा में अच्छी जानकारी ...

    ReplyDelete
  2. भाई बहुत नयी और रोचक जानकारी। आपके ब्लाग पर तो बहुत सारी रोचक जानकारियां हैं।हार्दिक शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  3. सभी पाठकगणों का आभार !

    ReplyDelete
  4. म एडम्स KEVIN, Aiico बीमा plc को एक प्रतिनिधि, हामी भरोसा र एक ऋण बाहिर दिन मा व्यक्तिगत मतभेद आदर। हामी ऋण चासो दर को 2% प्रदान गर्नेछ। तपाईं यस व्यवसाय मा चासो हो भने अब आफ्नो ऋण कागजातहरू ठीक जारी हस्तांतरण ई-मेल (adams.credi@gmail.com) गरेर हामीलाई सम्पर्क। Plc.you पनि इमेल गरेर हामीलाई सम्पर्क गर्न सक्नुहुन्छ तपाईं aiico बीमा गर्न धेरै स्वागत छ भने व्यापार वा स्कूल स्थापित गर्न एक ऋण आवश्यकता हो (aiicco_insuranceplc@yahoo.com) हामी सन्तुलन स्थानान्तरण अनुरोध गर्न सक्छौं पहिलो हप्ता।

    व्यक्तिगत व्यवसायका लागि ऋण चाहिन्छ? तपाईं आफ्नो इमेल संपर्क भने उपरोक्त तुरुन्तै आफ्नो ऋण स्थानान्तरण प्रक्रिया गर्न
    ठीक।

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts