Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Saturday, November 1, 2014

साहब जी ये भी हैं इंडिया वाले……..

SHARE
इससे बड़ा दुर्भाग्य हमारे देश का और क्या होगा कि जहा एक और हमारे देश के लोगो के काले धन से विदेशो के बैंक भरे पड़े हैं और वहीँ दूसरी और ऐसे भी लोग हैं और बस किसी तरह से जिंदगी जी रहे हैं , शायद ये रोज दुआ करते होंगे भगवान से कि इस नरक कि जिंदगी से अच्छा तो हमको मौत दे दे।   इन बेचारो को नही पता कि काला धन क्या है ? इनको तो ये भी नही पता कि क्या सरकार ने इनके लिए कुछ योजनाये भी चला रखी हैं या नही ? जवाब है शायद नही।   और अगर हैं भी तो इनको सरकारी दफ्तरों के दरवाजों से ही लौटा दिया जाता है कोई नही सुनता साहब इनकी।  


साहब मै नही जानता कि आप काला धन बापस लाने वाले हैं या नही? मै ये भी नही जानता कि अगर आप काला धन बापस भारत ले भी आये तो उसका एडजस्टमेंट कैसे करंगे ? मै ये भी नही जानता कि आप काले धन रखने वालो को क्या सजा दोगे? दोगे भी या नहीं या उनके साथ कोई समझोता करके मामले को निपटा दोगे कि चलो भैया तुम भी खुश और हम भी खुश।  मै आपसे ये भी नहीं कहता कि आपने जो अपने देश कि जनता को जो सपने दिखाकर इतना ऊँचा पद हासिल किया है आप उन सपनो को पूरा करो, मत करो साहब , ये भोली भाली जनता है लोगो कि बातो में आ जाती है , सपनो में जीकर खुश हो जाती है। मत चलाओ बुलेट ट्रेन कोई ख़ास जरूरत नहीं है उसकी , क्यों हज़ारो करोड़ खरच कर रहे  हो इस पर, इंडियन रेलवे की हालत सुधार दो , वही बहुत बड़ा उपकार होगा आपका देश की गरीब जनता पर !

   
मगर हाथ जोड़कर एक विनती हैं जरूर करता हूँ कि जिनके पास रहने को घर नही हैं, जिनके पास खाने को रोटी नही है, जो अपना इलाज नही करा सकते , जो सड़को पर सोकर जिंदगी गुजार देते हैं।  जहा हम एक और अपने घरो में दिवाली और होली मना रहे होते हैं, लड्डू और मिठाई खा रहे होते हैं वही ये लोग अपनी आँखों से देखकर , मन में सोचकर , बिना कसी को अपने दुःख बताये मन ही मन में खुश होकर भगवान को याद करके अपनी होली दिवाली मना लेते हैं , लेकिन मनाते जरूर हैं साहब उस हर चीज़ को , उस हर बात को जिसका इंडिया कि संस्कृति से गहरा नाता है ये उसका पूरी श्रद्धा से आदर करते हैं उसको मानते है क्यों कि साहब ये भी इंडिया वाले हैं।   आप भले ही कुछ करो या मत करो मगर कम से कम इनका ख्याल कर लो , इनका सहारा बन जाओ साहब जी , ये लोग बहुत दुःख दर्द में हैं।  देश कि लोगो ने अब इनको सहारा देना बंद कर दिया है , जो अमीर हैं वो अपने घमंड में चूर होकर , अपने ऊचे लाइफ स्टाइल कि दिखावटी इज्जत को बचाने के लिए इनके पास जाना नही चाहते उन्हे लगता है ऐसा करने से इनकी शान घट जायेगी। 


साहब ये बेसहारा और बेहद ही गरीब लोग भी इंडिया वाले ही हैं , इनके शरीर पर भले ही अच्छे कपडे नही हैं, इनके बच्चे भले ही नंगे हैं,या कीचड और गंदे पानी में खलते हैं , बहले ही ये भूखे सड़क पर सो जाते हैं पर इनके दिलो में भी तिरंगा रहता है साहब , ये काले धन रखने वालो कि तरह देश के साथ गद्दारी नही करते।  अंत में बस यही कहुगा कि साहब ये भी इंडिया वाले हैं इन से भी मिल लो एक बार ,अगर आप काला धन बापस लाते हैं तो उसका सबसे बड़ा हिस्सा इन लोगो को सहारा देने में खरच करो ताकि ये भी एक खुशहाल जिंदगी जी सके।  
काश भगवान ने सबको बराबर बराबर बाटी होती ये धरती और धन दौलत ।  

11 comments:

  1. Bahut badi vidambana hai jinko zarurat hai unhe pta hi nhi desh ki yojnaao ka jinhe pta hai unhe sarkaari daftar ke bahar se bhaga diya jata hai..... Haan sahi kahan jo zamini zarurate hain pahle wo puri ki jaaye asmaan ke khawaab tabhi dekhe jaa sakte hain... Bahut sunder soch va prastutikaran... Waise manoj ji aapki post aate hi mujhe use padhna hi hota hai... Kuch blogs ki site dimak me khuli rahti hai... :)

    ReplyDelete
  2. बहुत सारगर्भित प्रस्तुति...

    ReplyDelete
  3. इस भोली भाली जनता को अभी और कितनी बार पागल बनना होगा इसका कोई पता नहीं ...

    ReplyDelete
  4. गंगा-स्नान/नानक-जयन्ती(कार्त्तिक-पूर्णिमा) की सभी मित्रों को वधाई एवं तन-मन-रूह की शुद्धि हेतु मंगल कामना !
    अच्छा व्यंग्य !

    ReplyDelete
  5. सारगर्भित प्रस्तुति...

    ReplyDelete
  6. Such mein aap post aisa likhte hain ke.... jaise hum apne man ki bate hi soon rahe ho...

    ReplyDelete
  7. सभी पाठकगणो का शुक्रिया !

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts