Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Tuesday, November 13, 2012

सभी को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये !!

SHARE
पर्व है पुरुषार्थ का, दीप के दिव्यार्थ का !

देहरी पर दीप एक जलता रहे!

अंधकार से युद्ध यह चलता रहे !!



हारेगी हर बार अंधियारे की घोर-कालिमा !

जीतेगी जगमग उजियारे की स्वर्ण-लालिमा !!



दीप ही ज्योति का प्रथम तीर्थ है!

कायम रहे इसका अर्थ, वरना व्यर्थ है !!



आशीषों की मधुर छांव इसे दे दीजिए !

प्रार्थना-शुभकामना हमारी ले लीजिए!!



झिलमिल रोशनी में निवेदित अविरल शुभकामना !

आस्था के आलोक में आदरयुक्त मंगल भावना!!!



1 comment:

  1. हारेगी हर बार अंधियारे की घोर-कालिमा !

    जीतेगी जगमग उजियारे की स्वर्ण-लालिमा !!

    सुंदर भाव लिए बेहतरीन रचना

    कृपया वर्ड वेरिफिकेशन हटा लें ...टिप्पणीकर्ता को सरलता होगी ...

    वर्ड वेरिफिकेशन हटाने के लिए
    डैशबोर्ड > सेटिंग्स > कमेंट्स > वर्ड वेरिफिकेशन को नो करें ..सेव करें ..बस हो गया .

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts