Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Saturday, October 9, 2010

कैसा महसूस करेंगे हम जब होगा "One Laptop Per Child”

SHARE

कंप्यूटर और मोबाइल ने आज जीवन कि शैली को बदलकर रख दिया हैआज बिना इन दोनों के जिन्दगी अधूरी सी लगती हैलेकिन हमारे देश में अभी भी ऐसे बहुत लोग है जो इन संसाधनों के उपयोग तो दूर सही से जीवन यापन भी नहीं कर पा रहे हैइसका कारण महंगाई तो है ही साथ ही साथ भारत के लोगो कि सोच भी कुछ हद तक उतरदायी है इसके लिएइस समस्या को तो हम अपनी काम करने कि क्षमता को बढाकर ही दूर कर सकते हैवैसे ये एक बहुत ही सोसिअल विषय हैलेकिन मेरा विषय कंप्यूटर और मोबाइल से बदलती जीवन शैली का हैआज से १० साल पहले डाकिया चाचा जी हमारे घर हमसे मिलने वालो कि या हमारे रिश्तेदारों कि चिट्ठी लेकर आते थेलेकिन अब तो डाकिया अंकल केवल मेरे एक्जाम का प्रवेश पत्र लेकर आते है और अगर भी लाये तो वो भी नेट पर वेबसाइट से मिल जा जाता हैऔर रही बात खैर खबर कि तो वो तो मोबाइल से महीने या सप्ताह में में नहीं बल्कि रोज दिन में दो तीन बार हो ही जाती हैतो इन सब कि बात तो रहने दो



सोचो कैसा होगा कि अगर हमारे देश में हर स्कूली बच्चे से लेकर हर कर्मचारी पर अगर एक लैपटॉप होलेकिन आप कहेंगे कि ऐसा नही हो सकताएक बात बताओ जब आज के समय में हर कॉलेज का हर स्टुडेंट एक मोबाइल फ़ोन रख सकता है तो लैपटॉप या कंप्यूटर क्यों नहींलेकिन अब आप कहेंगे कि मोबाइल लैपटॉप से सस्ता आता हैजी हां आप सही कहा रहे है पर अब विश्व का सबसे सस्ता कंप्यूटर भी बन गया है जो कि आने वाले दो या तीन सालो में केवल १५०० रूपये में मिलने लगेगाबंगलौर के भारत विज्ञान अनुसंधान केंद्र और भारत के प्रमुख आई. आई .टी के वैज्ञ्यानिको ने मिलकर ये कर दिखाया है उन्होने आई पैड जैसा तौच स्क्रीन वाला एक कंप्यूटर बनाया है जो कि लाएनाक्स ऑपरेटिंग सिस्टम पर कार्य करेगाइस कंप्यूटर पर वर्ड प्रोसस्सिंग से लेकर तक वीडिओ कोंफेरेंसिंग तक सभी काम आसानी से किये जा सकेंगेइसमें जी.बी तक मेमोरी इन्बिल्ड होगी जिसे ३० जी.बी तक जा सकता हैअभी हाल ही में केंद्रीय मानव संशाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल जी ने इस कंप्यूटर का अनावरण किया। मात्र १५०० रुपे कि लगत का ये कंप्यूटर भारत के ११ करोड़ स्कूली बच्चो को ५० परसेंट सब्सीडी के साथ २०११ से और उसके बाद उच्च शिक्षा संस्थानों में उपलब्ध कराया जा सकेगा. उनका कहना है की बड़े पैमाने पर इसका उत्पादन होने पर इसकी कीमत को ५००रूपये तक पहुचाया जा सकेगा. अब देखना ये है की भारत सरकार की ये योजना क्या रंग लाती है ? क्या “One Laptop Per Child” वाला सपना पूरा हो पायेगा. ?

कंप्यूटर के फादर “Charles Babbage” जी को भी अपनी इस खोज पर स्वर्ग में भी अपने आप पर गर्व महसूस होता होगा की उनकी खोज ने आज हमारे कामो को कितना सरल कर । धन्यवाद Charles Babbage जी !



















1 comment:

  1. सपना पूरा तो होना चाहिए हमारे देश में बहुत प्रतिभा है अगर सही संसाधन हात आये तो क्या बात है !

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts