Blogger Tips and TricksLatest Tips And TricksBlogger Tricks

Monday, June 14, 2010

क्या ऐसा भी हो सकता है .................आपका क्या कहना है वैज्ञानिको की इस रीसर्च पर ?

SHARE

पढीये वैज्ञानिको द्वारा किये गए इस प्रोयोग के बारे में ........



ज्यादा उम्र में डिमनेशिया पीड़ित लोगों में गीत नई याददाश्त पैदा करने में मदद करता है। यह पहला कौशल हैं जिसे वे खोते जा रहे हैं। संगीत को याददाश्त बढ़ाने वाला माना जाता है। विशेषत: यह अपनी बीती बातों को पुन: याद करने का जरिया है। उदाहरण के लिए पाश्र्व में जब संगीत बज रहा होता हैतो अल्जाइमर्स के रोगी अपनी जिंदगी से जुड़ी बातों को ज्यादा याद कर पाते हैं। यह बहुत ही कम स्पष्ट थे हालांकि धुनें उन्हें सीखने में मदद कर सकती हैं। बोस्टन यूनिवर्सिटी के ब्रैडन एली और उसकी टीम ने इस रिपोर्ट से उत्साहित थे कि एक अल्जाइमर्स से पीड़ित व्यक्ति को उसकी बेटी पॉप संगीत की धुनों में समाचार गाकर सुनाती थी तब वह हालिया घटनाओं को याद कर लेता था। ब्रैडन एली की टीम ने निर्णय लिया कि यह नुस्खा दूसरों पर भी आजमाएंगे। उन्होनें 13 अल्जाइमर्स पीड़ित व्यक्तियों और 14 स्वस्थ वृद्धों को 40 बच्चों द्वारा संगीत सुनाए गए जिसमें आधे गीत थे जबकि आधे बोले जाने वाले शब्द। सभी प्रतिभागियों को फिर से गीत बिना आडियो के दिखाया गया और 40 अज्ञात गीतों के साथ उसे मिक्सड कर दिया गया। देखा गया कि अल्जाइमर्स पीड़ित 40 फीसदी ने वास्तविक गीत को पहचान लिया जिसे गाने में इस्तेमाल किया गया था लेकिन 28 फीसदी ने ही इसे पढ़ पाया। स्वस्थ 80 फीसदी बुजुर्ग लापरवाह दिखे जब उन्हें गीत गाकर सुनाया गया या उन्हें बोला गया। ब्रैडन एली ने कहा कि, डिमेंशिया पीड़ित लोगों में नई बातें सीखने में अच्छे परिणाम दिखे। वे कहते हैं कि यह बहुत अच्छा रहा कि वे गाने सुनकर उन्होंने ऐसा किया।

1 comment:

  1. This comment has been removed by a blog administrator.

    ReplyDelete

अगर आपको पोस्ट पसंद आये तो कृपया ब्लॉग का अनुसरण करें और पोस्ट पर टिप्पणी के रूप में अपने सुझाव दे !

Recent Posts